SNMP

Simple Network Management Protocol” के लिए जाना जाता है। SNMP का उपयोग नेटवर्क उपकरणों के बीच प्रबंधन सूचनाओं के आदान-प्रदान के लिए किया जाता है।

Example के लिए, SNMP का उपयोग राउटर को configure करने या बस इसकी स्थिति की जांच करने के लिए किया जा सकता है। प्रबंधित उपकरणों को नियंत्रित और monitor करने के लिए चार प्रकार के SNMP commands का उपयोग किया जाता है: 1) read, 2) write, 3) trap, and 4) traversal operations read command का उपयोग उपकरणों की निगरानी के लिए किया जाता है, जबकि राइट कमांड का उपयोग उपकरणों को configure करने और device settings को बदलने के लिए किया जाता है।

SNMP

Trap command का उपयोग डिवाइस से घटनाओं को “trap” करने और निगरानी प्रणाली को वापस report करने के लिए किया जाता है। Traversal operations का उपयोग यह निर्धारित करने के लिए किया जाता है कि एक निश्चित device किस चर का समर्थन करता है।

SNMP में कोई प्रमाणीकरण क्षमता नहीं है, जिसका अर्थ है कि यह एक बहुत ही secure protocol नहीं है। इस कारण से, SNMP का उपयोग अक्सर नेटवर्क को प्रबंधित करने के बजाय निगरानी के लिए किया जाता है। इसलिए, व्यावहारिक रूप से, SNMP को इसके बजाय “Simple Network Monitoring Protocol” के रूप में माना जा सकता है।

Leave a comment