Public Domain

Public Domain एक कानूनी शब्द है जो किसी ऐसे कार्य या उत्पाद का वर्णन करता है जो copyright द्वारा सुरक्षित नहीं है।

copyright protection सार्वजनिक डोमेन में एक आइटम हो सकता है 1) समाप्त हो गया हो, 2) लेखक द्वारा जारी किया गया हो, या 3) पहले स्थान पर कभी अस्तित्व में नहीं था। public domain item सार्वजनिक रूप से उपलब्ध हैं और इन्हें स्वतंत्र रूप से एक्सेस और पुनर्वितरित किया जा सकता है।

कई अलग-अलग मदों को “public domain” के रूप में lable किया जा सकता है। उदाहरण के लिए, किताबें, भाषण, कविताएं, कलाकृति, गीत और video सभी को जनता के लिए स्वतंत्र रूप से उपलब्ध कराया जा सकता है। computing की दुनिया में, “public domain” का उपयोग अक्सर उन software programs को संदर्भित करने के लिए किया जाता है जो बिना कॉपीराइट प्रतिबंधों के जनता को पेश किए जाते हैं।

पब्लिक domain software ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर के समान है, जिसमें किसी प्रोग्राम का source code सार्वजनिक रूप से उपलब्ध कराया जाता है। हालांकि, open source software, जबकि स्वतंत्र रूप से वितरित किया जाता है, फिर भी मूल डेवलपर के कॉपीराइट को बरकरार रखता है। इसका मतलब है कि डेवलपर किसी भी समय पुनर्वितरण नीति को बदल सकता है। पब्लिक डोमेन सॉफ्टवेयर भी freeware के समान है, जो बिना किसी शुल्क के पेश किए जाने वाले सॉफ्टवेयर को संदर्भित करता है। हालाँकि, ओपन सोर्स सॉफ़्टवेयर की तरह, फ्रीवेयर प्रोग्राम अभी भी कॉपीराइट द्वारा सुरक्षित हैं। इसलिए, उपयोगकर्ता सॉफ़्टवेयर को तब तक पुनर्वितरित नहीं कर सकते जब तक कि उन्हें मूल डेवलपर से अनुमति प्राप्त न हो।

चूंकि फ्रीवेयर, ओपन सोर्स और पब्लिक डोमेन सॉफ्टवेयर के बीच कई समानताएं हैं, इसलिए इन शब्दों को अक्सर एक दूसरे के स्थान पर इस्तेमाल किया जाता है। हालांकि, लाइसेंस के बीच महत्वपूर्ण कानूनी अंतर हैं, इसलिए डेवलपर्स के लिए सॉफ्टवेयर प्रोग्राम जारी करते समय सही लाइसेंस चुनना महत्वपूर्ण है। सार्वजनिक डोमेन सॉफ़्टवेयर, जो कम से कम कानूनी सुरक्षा प्रदान करता है, अक्सर कंपनियों के बजाय व्यक्तियों या शैक्षणिक संस्थानों द्वारा प्रकाशित किया जाता है। जब सॉफ़्टवेयर को सार्वजनिक डोमेन के रूप में पेश किया जाता है, तो इसे अक्सर “पीडी” लेबल किया जाता है या इसमें सार्वजनिक डोमेन मार्क (PDM) शामिल हो सकता है।