Non-Impact Printers

Non-Impact Printers Early printers, जैसे डॉट मैट्रिक्स और daisywheel printers को प्रभाव प्रिंटर कहा जाता था, क्योंकि वे कागज के खिलाफ एक ink ribbon मारकर संचालित होते थे। inkjet and laser printers सहित अधिकांश आधुनिक प्रिंटर में स्याही रिबन शामिल नहीं है और उन्हें non-impact प्रिंटर माना जाता है।

Non-Impact Printers

गैर-प्रभाव वाले प्रिंटर आमतौर पर impact printers की तुलना में अधिक शांत होते हैं क्योंकि वे भौतिक रूप से पृष्ठ को प्रभावित नहीं करते हैं। उदाहरण के लिए, inkjet printers पृष्ठ पर स्याही की छोटी बूंदों को स्प्रे करते हैं, जबकि लेजर प्रिंटर एक cylindrical drum का उपयोग करते हैं जो कागज पर विद्युत आवेशित स्याही को रोल करता है।

ये दोनों विधियां non-impact हैं और एक कुशल मुद्रण प्रक्रिया प्रदान करती हैं जो कम ध्वनि उत्पन्न करती हैं। इंकजेट और laser printers की कम प्रभाव प्रकृति का यह भी अर्थ है कि उन्हें पहले के प्रभाव वाले printers की तुलना में रखरखाव या maintenance की आवश्यकता कम होती है